Cyber Crime: जानिए कैसे बचे साइबर क्राइम से, झांसे में नहीं आना चाहिए

 देखा गया है कि Cyber Crime में ठगी करने के कुछ नए तरीके भी साइबर अपराधियों ने इजात किए हैं, जिनमें सबसे ज्यादा इस्तेमाल साइबर अपराधी आजकल हनीट्रैप के जरिए करते हैं। साइबर क्राइम एसीपी विवेक रंजन राय ने बताया कि हमें साइबर क्राइम से बचने के लिए जागरूक होना होगा। अगर कोई व्यक्ति किसी को सोशल मीडिया पर अपनी आकर्षक तस्वीर लगाकर या आकर्षक प्रोफाइल बनाकर फ्रेंड रिक्वेस्ट भेज रहा है और उससे बातें करने की कोशिश कर रहा है तो हमें सबसे पहले उस व्यक्ति के बारे में अच्छी तरीके से जांच पड़ताल उसकी प्रोफाइल के जरिए कर लेनी चाहिए और किसी भी तरह के झांसे में नहीं आना चाहिए।

वहीं एसीपी ने बताया कि साइबर अपराधियों ने ठगी का शिकार करने के कई अलग अलग तरीके अपनाएं हैं या तो वह कोई फेक कंपनी अथवा आपके बैंक मैनेजर बन के फोन कर आपको ठगी का शिकार बनाते हैं या फिर आजकल साइबर अपराधी हनी ट्रैप का सहारा लेकर आपको ब्लैक मेलिंग के जरिए एक्सटॉर्शन मनी की डिमांड करते हैं। बहुत से ऐसे लोग हैं जो हनी ट्रैप में फसने के बाद अपनी और अपने परिवार की इज्जत बचाने के लिए अपराधियों को पैसे दे देते हैं और अपनी शिकायत साइबर सेल में दर्ज नहीं कर पाते।

एसीपी ने बताया कि साइबर अपराध की दुनिया में सबसे ज्यादा शिकार कम उम्र के लड़के और लड़कियां (टीनएजर) ही होते हैं। वहीं इसके बाद महिलाओं को साइबर क्राइम के अपराधी अपना शिकार बहुत ही आसानी से बनाते हैं।

एसीपी ने बताया कि अगर साइबर अपराध से हमें खुद को बचाना है तो इंटरनेट की दुनिया पर बहुत ही संभल कर रहना होगा साथ कि अगर इंटरनेट बैंकिंग या ऑनलाइन ट्रांसफर करते हैं तो उसमें भी हमें खुद को संभाल कर चलना होगा।

 

News Desk

निष्पक्ष NEWS.जो मुख्यतः मेन स्ट्रीम MEDIA का हिस्सा नहीं बन पाती हैं।

News Desk has 5066 posts and counting. See all posts by News Desk

Avatar Of News Desk

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

5 × one =