वैश्विक

पूर्व पीएम एचडी देवेगौड़ा के पोते Prajwal Revanna स्कैंडल में फंसे, कई Sex Videos सोशल मीडिया में Viral

जनता दल सेक्युलर के सांसद Prajwal Revanna पर यौन उत्पीड़न के आरोपों की चपेट में आने के बाद जनता दल सेक्युलर के नेता एचडी कुमारस्वामी ने बताया कि पार्टी ने कई महिलाओं के यौन उत्पीड़न के आरोपों का सामना कर रहे Prajwal Revanna को निलंबित करने का फैसला किया है। इस मामले में सैकड़ों महिलाओं के यौन उत्पीड़न की घटनाएं सामने आई हैं और इसके वीडियो क्लिप भी सामने आए हैं।

यह मामला सामने आया जब उनके घर पर काम करने वाली एक महिला ने उनके खिलाफ यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया। पुलिस ने इस मामले में कानूनी कार्रवाई के लिए कई धाराओं के तहत एचडी कुमारस्वामी और Prajwal Revanna के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की है। कर्नाटक सरकार ने इस मामले की जांच के लिए एक विशेष जांच टीम गठित की है।

मंगलवार 30 अप्रैल को जद (एस) की कोर कमेटी की बैठक बुलाई गई. जिसमें जनता दल सेक्युलर के नेता एचडी कुमारस्वामी ने सोमवार को कहा कि पार्टी ने कई महिलाओं का यौन उत्पीड़न करने के आरोपों का सामना कर रहे Prajwal Revanna को निलंबित करने का फैसला किया है. कुमारस्वामी के भतीजे Prajwal Revanna हासन से सांसद हैं और इसी सीट से लोकसभा चुनाव में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) के उम्मीदवार हैं. जहां पर 26 अप्रैल को मतदान हो चुका है.

पूर्व मुख्यमंत्री कुमारस्वामी ने इस मामले में न्याय की मांग की और कहा कि अगर आरोप साबित होते हैं तो सजा कानून के मुताबिक होनी चाहिए। इससे पहले भी हमने इस परिवार के सदस्यों के खिलाफ जांच की है और हमेशा कानून का सम्मान किया है।

हासन जिले के होलेनरासीपुर पुलिस थाने में रेवन्ना के घर में काम करने वाली मेड की शिकायत पर भारतीय दंड संहिता की धारा 354 (ए) (यौन उत्पीड़न), 354 (डी) (पीछा करना) और 506 (आपराधिक धमकी) और 509 (महिला की गरिमा को ठेस पहुंचाने के मकसद से कुछ बोलना, इशारा या हरकत करना) के तहत विधायक और पूर्व मंत्री एचडी व उनके बेटे प्रज्वल रेवन्ना के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई.

पूर्व मुख्यमंत्री कुमारस्वामी ने इस पूरे प्रकरण से जद (एस) और गठबंधन में सहयोगी भारतीय जनता पार्टी तथा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को अलग रखने की अपील की. उन्होंने कहा, अब तक Prajwal Revanna  के खिलाफ कोई सीधा आरोप नहीं है. यदि आरोप सही हैं. तो सजा कानून के अनुसार होनी चाहिए. इससे कोई समझौता नहीं होगा. यदि प्रज्वल रेवन्ना गलत हैं, तो हमारा परिवार उनके खिलाफ कार्रवाई के लिए तैयार है. जद (एस) के प्रदेश अध्यक्ष कुमारस्वामी ने पूरे विवाद में अपने पिता और पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवेगौड़ा सहित परिवार के अन्य सदस्यों का नाम घसीटे जाने पर कड़ी आपत्ति जताई.

इस घटना ने कर्नाटक राजनीति में भी बड़ी खलबली मचाई है। Prajwal Revanna के खिलाफ आरोप लगने के बाद उन्हें पार्टी से हटाने की मांगें उठी हैं। यह मामला और भी गंभीर बन सकता है जब जांच पूरी होगी और सच्चाई सामने आएगी। कर्नाटक सरकार को इस मामले को गंभीरता से लेना चाहिए और जल्द से जल्द इस मामले की जांच करानी चाहिए ताकि सच्चाई सामने आ सके

News Desk

निष्पक्ष NEWS.जो मुख्यतः मेन स्ट्रीम MEDIA का हिस्सा नहीं बन पाती हैं।

News Desk has 15254 posts and counting. See all posts by News Desk

Avatar Of News Desk

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

seven − 6 =