हर्निया (Hernia) क्या है – शुरुआती लक्षण, कारण और सही इलाज

हर्निया (hernia) रोग को दूर करने के लिए बताई गए यौगिक क्रिया में षट्क्रिया का अभ्यास सावधानी से किसी योग चिकित्सक की देख-रेख में करना चाहिए। इसमें प्राणायाम का अभ्यास करते हुए पेट के अंगों के विषय में ध्यान करना चाहिए तथा वह ठीक हो रहा है, ऐसा अनुभव करना चाहिए।

Read more...

Benefits Of Cumin seeds: प्रकृति के अद्भुत वरदानों में से 1 वरदान है जीरा -Health Care?

Benefits Of Cumin seeds: जीरा किचन का सबसे कॉमन मसाला जो हर सब्जी में इस्तेमाल होती हैं । आप सब्जी खाते हैं तो जीरा के स्वाद को जानते ही है । जब भी कोई सब्जी बनाई जाती हैं तो सबसे पहले जीरा का छौंक लगाया जाता हैं । ज्यादातर लोगों को केवल इतना ही पता होता हैं कि जीरा का इस्तेमाल केवल सब्जी बनाने के लिए प्रयोग होता हैं । White Cumin Seeds का प्रयोग तो करते ही है परंतु क्या आप जानते हैं कि जीरा का प्रयोग सब्जी के अलावा कई तरह की बीमारियों के उपचार Health के लिए भी किया जाता हैं ।

Read more...

Home Remedies for Backache: कमर दर्द (Back pain) से राहत पाने के घरेलू कारगर उपचार

Home Remedies for Backache: (Back pain) ग्वारपाठे (घृतकुमारी) का छिलका उतारकर गूदे को कुचल के बारीक पीस लें आवश्यकतानुसार आटा लेकर उसे देशी गाय घी में गुलाबी होने तक सेंक लें फिर उसमें ग्वारपाठे का गुदा मिलाकर सेंकें जब घी छूटने लगे तब उसमें पिसी मिश्री मिला के २०-२० ग्राम के लड्डू बना ले|

Read more...

Health care: घर पर ही Corona को दें सही देखभाल से मात- इंटीग्रेटेड कमांड सेंटर से निगरानी

Health care: ध्यान देने वाली बात यह है कि यदि परिवार में कोई व्यक्ति कोविड (Corona) पाजिटिव है तो होम आइसोलेशन के नियमों का पालन करें और घर से बाहर न निकलें । इसके अलावा यदि खुद कोविड के लक्षणों से ग्रसित हैं तो खुद को परिवार के अन्य सदस्यों से दूर रखें और घर से बाहर न निकलें ।

Read more...

Diabetes: दिल पर भारी पड़ सकती है मधुमेह की बीमारी

पैरों में उचित सुरक्षा एवं से जूते पहनने की आदत अपने आप को (Diabetes) गंभीर होने से बचा सकते हैं पैरों को अधिक ठंड एवं गर्मी से बचाना चाहिए भारत में मधुमेह के रोगियों की संख्या लगातार बढ़ रही है पहले यह बीमारी शहरों तक किस समिति लेकिन गलत आदतों के नकल के कारण ग्रामीणों ने भी इसे अपनी तरफ खींच लिया है।

Read more...

Ayurvedic Pain Relief Oil: दर्दनिवारक लाल तेल बनाने की सरल सुलभ विधि: जोड़ों के दर्द को कहेंगे बाय-बाय

Ayurvedic Pain Relief Oil: जब तेल पूरी तरह से गर्म हो जाए तो तेल को निचे उतार लें तथा ठंडा होने के लिए रख दें। जब तेल पूरा ठंडा हो जाए तो उसमें लहसुन के टुकड़े डालकर उसको फिर आंच पर चढाकर तेज और मंदी आंच में गर्म कीजिए तेल को इतना पकाए कि लहसुन कि कलियाँ व चूर्ण जलकर काली हो जाए।

Read more...

Maternity Care: सौभाग्यसूंठी पाक (Saubhagya Sunthi Pak)- प्रसव के बाद (post delivery) कैसे करे दूर कमजोरी?

Maternity Care: भोजन में तीखे, खट्टे, तले हुए तथा पचने में भारी पदार्थ न लें। शाम को पुन: 10 ग्राम पाक दूध के साथ लें। (Saubhagya Sunthi Pak)पाक के सेवन से बल, कांति, बुद्धि, स्मृति, उत्तम वाणी, सौंदर्य, सुकुमारता तथा सौभाग्य की प्राप्ति होती है। प्रसूति (maternity)  माताओं को यह पाक देने से योनि, शैथिल्य दूर होता है, दूध खुलकर आता है।

Read more...

गोबर (Cow dung) के औषधीय गुण एवं प्रयोग: क्या है सच्चाई?

प्रतिदिन गोबर Cow dung)  मिट्टी झाड़ से सर्वथा शुद्ध रखना और जो पक्का मकान हो तो जल से धोकर के शुद्ध रखना चाहिए ।मार्कंडेय पुराण में भी गोबर से लिपने का निर्देश दिया गया है वहां कहा गया है कि प्रातकाल स्त्रियों को अपना घर गोबर से लिपना चाहिए

Read more...

Immunity Boosters: परम्परागत मेथी के लड्डू (methi ke laddu) खाने के फायदे और बनाने की विधि

methi ke laddu एक बेहतर आयुर्वेदिक नाश्ता है, लेकिन इसका सही फायदा तभी मिलता है, जब इसका सेवन सही तरह से किया जाए। इसे खाने के साथ कई तरह के परहेज भी करने पड़ते हैं, जो सभी को पता होने चाहिए। वरना ये लडड्डू फायदा नहीं करेंगे।

Read more...

Child care: बच्चों की खांसी दूर करने के सरल सुलभ घरेलू उपाय (Natural Remedies For Cough)

Child Care- Natural Remedies For Cough: 10 मिलीलीटर रस अडूसा, 10 ग्राम शहद और डेढ़ ग्राम जवाक्षार को एक साथ मिलाकर रख लें। इस को दिन में 3-4 बार चटाने से बच्चों की कठिन से कठिन खांसी दूर हो जाती है।

Read more...

डेंगू बुखार (Dengue fever) कारण, उपचार तथा बचाव

Dengue fever के उपचार से अधिक उसका बचाव जरूरी होता है . इसकी रोकथाम के लिए सफाई से बढ़कर दूसरा कोई उपाय नहीं है . डेंगू  के मच्छर ठहरे हुए पानी में पनपते हैं . इसलिए डेंगू का संक्रमण के अंतिम दिनों में होने लगता है , गड्ढों में जमा पानी बरसात एडीस मच्छरों के लिए वरदान साबित होता है.

Read more...