Muzaffarnagar और आसपास से प्रमुख खबरें

Muzaffarnagar News-जन्माष्टमी पर सजे मंदिर..हर ओर गूंजी राधे कृष्णा की गूंज

मुजफ्फरनगर। (Muzaffarnagar News)। जन्माष्टमी के पावन पर्व जनपद सहित नगर के सभी मंदिरो को बहुत ही सुन्दर तरीके से सजाया गया है। शहर के सभी मंदिरो मे दर्शन करने वाले श्रृद्धालुओं की अच्छी-खासी भीड लगी है। कईं मन्दिरो मे सुन्दर-सुन्दर झांकिया तथा बाबा अमरनाथ बर्फानी की गुफा श्रृद्धालुओं के दर्शनार्थ लगाई गई हैं।

प्रत्येक वर्ष की भांति इस वर्ष भी भारतीय संस्कृति के अनुसार जनपदभर में जगदगुरू श्री कृष्ण जन्माष्टमी का पर्व बडी धूमधाम व हर्षोल्लास के साथ मनाया जा रहा है। जन्माष्टमी के त्यौहार के मददेनजर पिछले करीब एक पखवाडे से सभी मंदिरो की साफ-सफाई एवं पेन्ट आदि का कार्य चल रहा था। वहीं दूसरी और सभी मन्दिरों को रंगबिरंगी झालरों, फूल मालाओं , लाईटों, हाईमास्ट आदि से सजाया गया है।

इस सब से पूरा शहर धर्ममय हो गया है। शहर के विभिन्न मन्दिरों मे गांधी कालोनी स्थित श्री श्री गोलोक धाम मन्दिर, गांधी कालोनी स्थित लक्ष्मी नारायण मन्दिर, माता वैष्णोदेवी मंदिर, नई मन्डी बिन्दल बाजार स्थित माता वाला मन्दिर, गउशाला रोड स्थित संकीर्तन भवन, नदी घाट स्थित मंदिर, अति प्राचीन नदी रोड स्थित देवी मन्दिर, लोहिया बाजार स्थित देवी मन्दिर, सर्राफा बाजार स्थित संतोषी माता मन्दिर, भारत माता चौक अबुपुरा स्थित संतोषी माता मन्दिर, अंसारी रोड स्थित अति प्राचीन बोहरों का मन्दिर सहित सभी मन्दिरो मे दर्शन करने वालों की शानदार भी ड रही।

पालिका प्रशासन की और से त्यौहार के दृष्टिगत शहर मे सफाई अभियान चलाया गया। विशेष तौर पर शहर के समस्त मन्दिरों के आसपास उचित सफाई व्यवस्था एवं चूने का छिडकाव आदि कराया गया। वहीं दूसरी और एसपी सिटी सत्यनारायण प्रजापत के निर्देशो के चलते एवं जन्माष्टमी के त्यौहार के कारण एक और जहां सम्बन्धित थाना प्रभारियों ने अपने-अपने क्षेत्र मे भारी पुलिस बल के साथ पैदल गश्त की वहीं दूसरी और सभी मन्दिरो एवं उनके समीप सुरक्षा के दृष्टिगत पुलिस बल तैनात रहा। महिला पुलिस भी उक्त पाइंटस पर मुस्तैद नजर आई।

 

जन्माष्टमी की धूम, मंदिरों पर उमड़े श्रीकृष्ण के भक्त
मुजफ्फरनगर। (Muzaffarnagar News)। श्रीकृष्ण जन्माष्टमी का पर्व श्रद्धा और उल्लास के साथ मनाया गया। शहर से गांव देहात तक मंदिरों में विशेष पूजा अर्चना हुई। देर रात्रि को कान्हा के जन्म के उपरांत आरती कर भगवान को भोग लगाकर व्रत खोले गए। देहात में पर्व पर घरों में विशेष मिष्ठान बनाए गए। लोग अपने छोटे छोटे बच्चों को राधा कृष्ण के रूप में मंदिरों में लेकर पहुंचे थे।

इस साल दो दिन श्रीकृष्ण जन्माष्टमी पर्व मनाया गया। इस अवसर पर मंदिरों को रंगीन रोशनी से भव्य रुप में सजाया गया। मंदिरों और लगी मुहल्लों में विभिन्न धार्मिक झांकियां सजाई गई। जिन्हें देखने के लिए देर रात्रि तक मंदिरों में श्रद्धालुओं की भीड़ रही। शहर में भगवान श्रीकृष्ण की बैंडबाजों के साथ शोभायात्रा निकाली गई। रुड़की रोड स्थित श्री राधा कृष्ण मंदिर कुष्ठ आश्रम में भी श्रीकृष्ण जन्माष्टमी पर्व धूमधाम से मनाया गया। मंदिर बहुत ही सुंदर तरीके से सजाए गए, जिनमें बहुत ही सुंदर-सुंदर एवं मनोहारी झांकियां सजाई गई। इसके साथ-साथ नन्हे मुन्ने बच्चों ने भी जन्माष्टमी को लेकर अच्छा खासा उत्साह देखने को मिला। बच्चों ने अपने घरों के बाहर गली मौहल्लों एवं बाजारों में सुंदर झांकियां सजाई।

गांधी कालोनी के सुभाष नगर स्थित श्री शिवशक्ति शनि मंदिर प्रांगण में जन्माष्टमी महोत्सव धूमधाम से मनाया गया। भगवान आशुतोष, पार्वती, श्री राधा-कृष्ण, सुदामा, श्रवण, साईंबाबा की भव्य झांकियां श्रद्धालुओं की आस्था का केंद्र बनी रही। श्रीबाला जी धाम सेवा समिति मंदिर को भी बहुत ही सुंदर तरीके से सजाया गया। मंदिरों में अनेक सुंदर झांकियां सजाई गयी। श्रीगणपति धाम पर मेला भी लगा।

नई मंडी स्थित माता वाले मंदिर में अमरनाथ जी की गुफा लगाई गई। सरवट फाटक स्थित संकट हरनी दुर्गा मंदिर, प्राचीन भौहरों वाले मंदिर, गांधी कालोनी स्थित श्री गोलोकधाम मंदिर, बाबा मोहनराम मंदिर समेत नगर के सभी मंदिरों को भव्य रुप से रंगीन रोशनी से सजाया गया।

मंदिरों और लगी मुहल्लों में सजाई गई धार्मिक झांकियां देखने वालों को देर रात तक भीड़ उमड़ी रही। मध्य रात्रि को श्री कृष्ण जन्म के उपरांत विशेष पूजा अर्चना के बाद भगवान को भोग लगा कर व्रत खोला गए। जन्माष्टमी पर्व के मद्देनजर सभी मंदिरों के आसपास एवं मंदिरों पर पुलिस बल तैनात रहा। श्री श्यामा श्याम मंदिर मे जन्माष्टमी उत्सव की धूम रही। यहां भक्तों के आकर्षण के लिए बाबा अमरनाथ जी की गुफा बनाई गई

जिसके सैंकड़ो भक्तों ने दर्शन कर धर्म लाभ उठाया। श्री श्यामा श्याम मंदिर सेवा समिति के कार्यकर्ता हरीश गोयल ने बताया कि गांधीनगर में मंडी समिति रोड पर स्थित श्री राधे कृष्ण जी का मुख्य मंदिर १०८ स्तंभ से सुसज्जित श्री श्यामा श्याम मंदिर के नाम से जाना जाता है। गत वर्षो की भांति इस वर्ष भी जन्माष्टमी का मुख्य पर्व मनाया गया। यहां राधा कृष्ण, शिव पार्वती आदि की सुसज्जित झांकियां व नृत्य नाटिका आदि कार्यक्रम छोटे छोटे बच्चो के द्वारा किये गये।

भक्तों के मुख्य आकर्षण के रूप में श्री श्यामा श्याम मंदिर में पहली बार बाबा अमरनाथ जी की झांकी बनाई गई, जिसमें भक्तजनों ने बर्फानी गुफा में बाबा अमरनाथ जी के दर्शन किये। नई मंडी के श्री गणपति खाटू श्याम मंदिर को जन्माष्टमी पर्व के अवसर भव्य रूप में सजाया गया। यहां पर भगवान श्री कृष्ण एवं राधा रानी के स्वरूप में नन्हे मुन्ने बच्चे दिखाई दिए।

 

News-Desk

निष्पक्ष NEWS.जो मुख्यतः मेन स्ट्रीम MEDIA का हिस्सा नहीं बन पाती हैं। हमारा लक्ष्य न्यूज़ को निष्पक्षता और सटीकता से प्रस्तुत करना है, ताकि पाठकों को विश्वासनीय और सटीक समाचार मिल सके। किसी भी मुद्दे के मामले में कृपया हमें लिखें - [email protected]

News-Desk has 15514 posts and counting. See all posts by News-Desk

Avatar Of News-Desk

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

18 − sixteen =