संपादकीय विशेष

Muzaffarnagar: छह दिन से सूरज के नहीं हुए दर्शन, शुरू हुआ सर्दी का सितम

मुजफ्फरनगर।(Muzaffarnagar ) जनवरी के पहले ही दिन से पहाड़ों पर हुई बर्फबारी और पश्चिमी विक्षोभ के उभरने के कारण शुरू हुआ सर्दी का सितम कम होने का नाम नहीं ले रहा। रात और दिन में कोहरा छाने के साथ ही हवा में पानी के कण होने के कारण नमी से गलन बनी होने पर लोगों को हाड़ कंपा देने वाली ठंड का सामना करना पड़ रहा है।

शीतलहर जान निकाल रही है और कोहरे के प्रभाव के कारण पिछले छह दिनों से दिनभर सूरज के दर्शन नहीं हो पा रहे हैं। इस कारण दिन की शुरूआत देर से हो रही है तो रात घिरने से पहले ही लोग गरम कपड़ों के सहारे घरों में दुबकने के लिए विवश हो रहे हैं। रविवार को भी बादल और कोहरा छाया रहा, तो वही शीतलहर का प्रकोप भी बना रहा। इसके चलते सर्दी में और बढ़ोतरी हो गई। आलम यह है कि उत्तराखंड और हिमाचल से भी ज्यादा ठंड मुजफ्फरनगर में बनी रहने के कारण पिछले एक सप्ताह से आम जनजीवन प्रभावित हो गया है।

स्कूलों में अवकाश का दायरा भी लगातार बढ़ाया जा रहा है। इससे छोटे बच्चों को तो राहत मिल रही है, लेकिन सर्दी के प्रकोप के कारण बाजार ठंडा पड़ा है और दिनभर लोगों को अलाव के सहारे रहना पड़ रहा है। यूपी में मुजफ्फरनगर सबसे ठंडा रहा। सोमवार से अगले चार दिनों तक बारिश की संभावना व्यक्त की गयी है।

पहाड़ों पर हो रही बर्फबारी से लगातार पारा गिरता जा रहा है। शीतलहर के कारण ठंड बढ़ती जा रही है। शुक्रवार की देर रात्रि करीब दो बजे चली ठंडी हवा के साथ पानी की फुहार भी शामिल रही। इस फुहार में सड़क भी गिली हो गई। ठंडी हवा की गति बढ़ गई। शनिवार को कोहरे का असर कम रहा, लेकिन बर्फीली हवा के कारण दिनभर लोग ठिठरते रहे। पिछले कई दिनों से धूप नहीं निकल रही है। जिस कारण जन जीवन पूरी तरह से प्रभावित बना हुआ है। बर्फीली हवा के कारण ठंड से लोगों का बुरा हाल बना हुआ है। अधिक ठंड को देखते हुए जिला प्रशासन ने स्कूलों की छुट्टी की हुई है। उधर नगर पालिका के कारण रेलवे रोड पर दो अस्थाई रैन बसेरे की व्यवस्था की हुई है। जिसमें लोग रात्रि में ठहर रहे है। उधर जिला प्रशासन के द्वारा भी सड़क और फुटपाथ पर सो रहे लोगों को रैन बसेरे में भेजा रहा है। नगर पालिका के द्वारा करीब ३० से अधिक स्थानों पर अलाव की व्यवस्था की गई है। धूप न निकलने के कारण दिन में भी अलाव की डिमांड बढ़ रही है।

नगर पालिका के द्वारा सभी मुख्य चौराहे, रेलवे स्टेशन, रोडवेज बस स्टेंड, सहारनपुर बस स्टेंड, शिव चौक, रुड़की रोड, कच्ची सड़क, मीनाक्षी चौक, महावीर चौक आदि स्थानों पर अलाव की व्यवस्था की जा रही है। छठे दिन रविवार को भी सूरज न दिखाई न देने एवं शीतलहर के प्रकोप के चलते घरों में कपड़े आदि भी नहीं सूख पा रहे थे। दिनभर चल रही शीत लहर और कोहरे के कारण बाजारों की रौनक भी गायब हो गई है। शहर के भगत सिंह रोड, एसडी मार्केट, अंसारी रोड, रुड़की रोड, कोर्ट रोड, सदर बाजार, गांधी कालोनी, जानसठ रोड, महावीर चौक आदि स्थानों पर आम दिनों में लोगों की भीड़ रहती है।

बाजारों में भी खासी चहल पहल रहती है, लेकिन सर्दी अधिक पड़ने की वजह से लोग खरीदारी के लिए भी कम निकल रहे हैं। इसकी वजह से कारोबार पर भी प्रतिकूल प्रभाव पड़ रहा है। धूप न निकलने और शीतलहर बनी रहने के कारण दिन और रात एक समान बने हुए हैं। घरों से बाहर निकलते ही लोगों की कंपकंपी छूट रही है। न्यूनतम तापमान में गिरावट के कारण सर्दी में बढ़ोतरी के कारण ही लोग विभिन्न तरह से राहत पाने का प्रयास कर रहे हैं। घरों से बाहर निकलते समय ऊनी कैप के अलावा मफलर का भी इस्तेमाल किया जा रहा है।

दिन में ही अनेक स्थानों पर लोग अलाव सेंकते नजर आए, ताकि सर्दी से बचाव हो सके। वहीं, मौसम विभाग का अनुमान है कि सोमवार को बादल छाए रहेंगे। अधिकतम तापमान में हल्की बढोतरी हो सकती है, लेकिन सर्दी कम नहीं होगी। इसके साथ ही बारिश की संभावना के कारण आगामी दिनों में कोहरे से तो निजात मिलेगी, लेकिन सर्दी बढ़ेगी।

Dr. Sanjay Kumar Agarwal

डॉ. एस.के. अग्रवाल न्यूज नेटवर्क के मैनेजिंग एडिटर हैं। वह मीडिया योजना, समाचार प्रचार और समन्वय सहित समग्र प्रबंधन के लिए जिम्मेदार है। उन्हें मीडिया, पत्रकारिता और इवेंट-मीडिया प्रबंधन के क्षेत्र में लगभग 3.5 दशकों से अधिक का व्यापक अनुभव है। वह राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कई प्रतिष्ठित समाचार पत्रों, चैनलों और पत्रिकाओं से जुड़े हुए हैं। संपर्क ई.मेल- [email protected]

Dr. Sanjay Kumar Agarwal has 281 posts and counting. See all posts by Dr. Sanjay Kumar Agarwal

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

3 + 7 =