दैनिक राशिफल (Rashifal) 👩और भविष्य: No. 1 Horoscope

दैनिक राशिफल (Rashifal) Horoscope: प्रत्येक राशि का राशिफल चंद्र ग्रह की गणना पर आधारित होता है। राशिफल को निकालते समय पंचांग की गणना और सटीक खगोलीय विवरण का विश्लेषण किया जाता है। वैदिक पूजन के द्वारा दैनिक राशिफल में बारह राशियों का भविष्यफल बताया जाता है।

Read more...

जीवन को किस प्रकार प्रभावित करता है? कुंडली (Kundli) का दूसरा भाव

नकारात्मक पक्ष पर, दूसरा घर भी कुंडली (Kundli)का एक क्षेत्र है। यह लालच, वित्तीय कठिनाई या कम आत्म-मूल्य के मुद्दों का संकेत दे सकता है। यह भी सिर्फ पैसे के घर से अधिक है। यह आपको अपने जीवन में आप क्या मूल्य रखते हैं। इसके बारे में भी बताता है। जन्म कुंडली में दूसरे घर का एक विस्तृत विश्लेषण चेहरे, दांत, भाषण, जीभ, मौखिक गुहा, नाक, और दाहिनी आंख से संबंधित उनके जीवनकाल में होने वाले कुछ स्वास्थ्य संबंधी मुद्दों के बारे में बहुत कुछ बताता है।

Read more...

Deepawali पर देवी लक्ष्मी को प्रसन्न करने के लिए इक्यावन उपाय,दीपक में एक लौंग डालकर हनुमानजी की आरती करें

दीपावली (Deepawali) पर लक्ष्मी का पूजन करने के लिए स्थिर लग्न श्रेष्ठ माना जाता है। इस लग्न में पूजा करने पर महालक्ष्मी स्थाई रूप से घर में निवास करती हैं।-पूजा में लक्ष्मी यंत्र, कुबेर यंत्र और श्रीयंत्र रखना चाहिए। यदि स्फटिक का श्रीयंत्र हो तो सर्वश्रेष्ठ रहता है। एकाक्षी नारियल, दक्षिणावर्त शंख, हत्थाजोड़ी की भी पूजा करनी चाहिए।

Read more...

Diwali Special:  दीपावली पर करे लक्ष्मी प्राप्ति के विशेष उपाय

दीपावली (Diwali) में हर व्यक्ति चाहता है की लक्ष्मी उस पर मेहरबान हो लक्ष्मी देवी को प्रसन्न करने और दीवाली पर धन पाने के कुछ अचूक उपाय बतलाये जा रहे है आशा है इनका प्रयोग कर पाठक गण इसका लाभ उठा सकेंगे ये उपाय इस प्रकार है।

Read more...

इस बार धनतेरस (Dhanteras) 22 को है या 23 अक्टूबर को? जानें इस बारे में

धनतेरस (Dhanteras) के दिन प्रातः काल सूर्योदय के पूर्व स्नान करने के पश्चात शुद्ध हो जाएं तथा धनतेरस का पूजन प्रदोष काल में माना जाता है. ऐसा भी कहा गया है कि प्रदोष काल में धनतेरस के दिन भेंट की हुई सामग्री से अकाल मृत्यु नहीं होती इसलिए हमें चाहिए कि भगवान का विधि विधान से पूजन करें।

Read more...

Karva Chauth (करवा चौथ) व्रत आज, सुहागिनें क्या न करें?

Karva Chauth (करवा चौथ) में सुहागिन महिलाएं 16 श्रृंगार करती है। ध्यान रहे कि इस दिन सुहाग की कोई वस्तु पहनते समय टूट जाए तो उसे कूड़दान में न फेंके। इन्हें बहते जल में प्रवाहित कर देना चाहिए। साथ ही इस दिन किसी से उधार लेकर मांग में सिंदूर न लगाएं। न ही अपना सिंदूर और श्रृंगार का सामान किसी दूसरी महिला को दें।

Read more...

Rajyog In Kundli: आपकी कुंडली में राजयोग है या नहीं?

Rajyog In Kundli-जिस व्यक्ति की जन्म कुंडली में आठवें घर में अशुभ ग्रह, शनि, सूर्य, राहु मौजूद हों और शुभ ग्रह जैसे गुरु, चंद्रमा, शुक्र लग्न यानी पहले घर में मौजूद हों वह बड़े की किस्मत वाले होते हैं। ऐसे लोग ध्वज नामक राजयोग लेकर पैदा हुए हैं। ऐसे लोग समाज में आदरणीय होते हैं और बड़े राजनेता हो सकते हैं।

Read more...

शारदीय नवरात्रि: Navaratri के नौ दिन ऐसे होगी आराधना

नवरात्रि आह्वान करने के बाद ये मानते हुए कि सभी देवतागण कलश में विराजमान हैं, कलश की पूजा करें। कलश को टीका करें, अक्षत चढ़ाएं, फूलमाला अर्पित करें, इत्र अर्पित करें, नैवेद्य यानी फल-मिठाई आदि अर्पित करें।

Read more...

Lord Kartik का ऐसा रहस्यमयी भंडार: कहानी एक ऐसे रहस्यमयी भंडार की। जिसके दर्शन हर किसी के बस की बात नहीं।

शिव पुराण में केदारखंड के कुमार खंड में वर्णित है कि एक बार गणेश और Lord Kartik कार्तिकेय में पहले विवाह को लेकर मतभेद हो गया था। जब यह बात शिव-पार्वती तक पहुंची तो दोनों ने एक युक्ति निकाली की, जो सर्वप्रथम विश्व परिक्रमा कर आएगा उसका विवाह पहले कर दिया जाएगा। माता पिता की आज्ञा लेकर भगवान कार्तिकेय अपने वाहन मोर पर सवार होकर विश्व परिक्रमा के लिए चल दिए

Read more...

Krishna Janmashtami: संदिग्ध व्रत-पर्व शंका समाधान, श्री कृष्णजन्माष्टमी मुहूर्त

इस वर्ष वैष्णव Krishna Janmashtami19 अगस्त को मनाई जाएगी। 19 तारीख को व्रत रखने वालो के लिए श्री कृष्णजन्माष्टमी निशिता पूजा का समय रात्रि 11:59 से 12:43 तक रहेगा। तथा पारण का समय 20 अगस्त को प्रातः 05:45 बजे के बाद होगा।

Read more...

Gand Mool Nakshatra: गण्ड मूल योग में जन्मे जातक का भविष्य और jyotish उपाय 

Gand Mool Nakshatra:: जब कोई ग्रह अशुभ गोचर करे या अनिष्ट ग्रह की महादशा या अंतरदशा हो तो उस ग्रह को प्रसन्न करने के लिए व्रत, दान, वंदना, जप, शांति आदि द्वारा उसके अशुभ फल का निवारण करना चाहिए। jyotish

Read more...