dharm

ReligiousNews

दैनिक राशिफल (Rashifal) 👩और भविष्य: No. 1 Horoscope

दैनिक राशिफल (Rashifal) Horoscope: प्रत्येक राशि का राशिफल चंद्र ग्रह की गणना पर आधारित होता है। राशिफल को निकालते समय पंचांग की गणना और सटीक खगोलीय विवरण का विश्लेषण किया जाता है। वैदिक पूजन के द्वारा दैनिक राशिफल में बारह राशियों का भविष्यफल बताया जाता है।

Read more...
Muzaffarnagar और आसपास से प्रमुख खबरें

Jyotish: मंगल राहु की युति Jail जाने के योग भी बनाती है

Jyotish: मंगल ग्रह अग्नि का कारक है और यह गृह ऊर्जा का स्रोत भी माना जाता है। इसलिए जिस भी व्यक्ति का मंगल ग्रह स्ट्रांग रहता है उसके अंदर ऊर्जा का पर्याप्त भण्डार होता है और कभी कभी इसकी स्थिति हिंसक भी हो जाती है इसलिए अगर मंगल कुपित होता है तो तो यह नुकसानदायक भी हो जाता है।

Read more...
Religious

Bhagwan Ka Bhog: किस देवता को चढ़ता है कौन-सा प्रसाद

Bhagwan Ka Bhog: 10 महाविद्याओं में माता कालिका का प्रथम स्थान है। गूगल से धूप दीप देकर, नीले फूल चढ़ाकर काली माता को काली चुनरी अर्पित करें और फिर काजल, उड़द, नारियल और पांच फल चढ़ाएं। कुछ लोग उनके समक्ष मदिरा अर्पित करते हैं। इसी तरह कालभैरव के मंदिर में मदिरा अर्पित की जाती है।

Read more...
Religious

Vastu Tips: घर का कबाड़ करें दान- फिर देखें चमत्कार

क्या आप जानते हैं आप के घर पर पड़ा हुआ कबाड़ आपके जीवन में नकारात्मकता के साथ-साथ दुर्भाग्य और दरिद्रता को भी ला सकता है। भारतीय ज्योतिष शास्त्रों में कूड़े और कबाड़ का संबंध राहू ग्रह से होता है। जिसका घर में पड़ा रहना न केवल आर्थिक हानि देता है अपितु आपके जीवन में दुर्भाग्य भी ला सकता है Vastu Tips..

Read more...
Religious

Ganga Dussehra 2022: गंगा दशहरा, करें 10 विशेष दान-पुण्‍य

Ganga Dussehra 2022: गंगा दशहरा के दिन गंगा माता का पूजन पितरों को तारने तथा पुत्र, पौत्र व मनोवांछित फल प्रदान करने वाला माना गया है। ऐसा करने से मनुष्य को मनोवांछित फल की प्राप्ति होती है। स्नान के बाद अपनी श्रद्धा अनुसार गरीबों में दान-पुण्य करें। इस दिन अगर आप 10 चीजें दान करते हैं तो अत्यंत शुभ फल मिलता है। 

Read more...
Religious

गंगाजल (Gangajal) रखते वक्त न करें ये गलतियां, ऊपरी हवा का वास नहीं होता है काले धतूरे का पौधा लगाने से

गंगाजल (Gangajal) को रखने के लिए घर में सबसे सही जगह घर का ईशान कोण यानी कि उत्तर पूर्व का कोना है माना जाता है कि देवताओं का वास होता है। गंगाजल को कभी भी प्लास्टिक की बोतल में न रखें। प्लास्टिक अशुद्ध होता है और लंबे वक्त तक इसमें चीजें रखने से उनमें जहरीले रसायन आ जाते हैं

Read more...
Religious

शनि जन्मोत्सव (shani janmotsav) पर 30 साल बाद बन रहा अद्भुत संयोग, जानें शुभ मुहूर्त और पूजन विधि

शनि जन्मोत्सव (shani janmotsav) के दिन किसी निर्धन व्यक्ति को भोजन कराना बेहद फलदायी माना जाता है, इस दिन दान-धर्म के कार्य करने से जीवन के सभी संकट दूर हो जाते हैं, आमतौर पर लोगों में शनिदेव को लेकर डर देखा जाता है, कई ऐसी धाराणाएं बनी हुई हैं कि शनि देव सिर्फ लोगों का बुरा करते हैं

Read more...
Religious

Chaitra Navratri 2022: घट स्थापना-मुहूर्त एवं पूजन विधि

Chaitra Navratri 2022: नारियल को लाल कपड़े में लपेट कर मौली बांध दें। इस नारियल को कलश पर रखें। नारियल का मुँह आपकी तरफ होना चाहिए। यदि नारियल का मुँह ऊपर की तरफ हो तो उसे रोग बढ़ाने वाला माना जाता है। नीचे की तरफ हो तो शत्रु बढ़ाने वाला मानते है , पूर्व की और हो तो धन को नष्ट करने वाला मानते है।

Read more...
Religious

Astro Care: व्यवसाय में लाभ प्राप्ति के No. 1 प्रभावशाली Tone-Totke, मुख्य द्वार पश्चिम की ओर है तो फिर काले घोड़े की नाल लाभदायक….

Astro Care: जातक यदि मंगलवार को कार्यालय आते समय किसी हनुमान जी के मंदिर में दर्शन कर उनके बाएं पैर से सिंदूर लेकर स्वयं के तिलक करे तो अत्यंत लाभदायक होता है। (Tone-Totke) माह में एक सोमवार को तांबे के पात्र में जल भरकर उसमें कुछ साबुत नमक डालकर रखें तथा अगले दिन मंगलवार को दिन के 2:00 बजे से पहले वह जल व्यवसाय स्थल की दीवारों पर छिड़क दें।

Read more...
Religious

सटीक और अचूक माना जाता है नक्षत्र से फलादेश: कौन से Nakshatra का क्या होता है असर

मध्यम Nakshatra के तहत वह नक्षत्र आते हैं जिसमें आम तौर पर कोई विशेष या बड़ा काम करना उचित नहीं, लेकिन सामान्य कामकाज के लिहाज से कोई नुकसान नहीं होता। इनमें जो नक्षत्र आते हैं वो हैं पूर्वा फाल्गुनी, पूर्वाषाढ़ा, पूर्वाभाद्रपद, विशाखा, ज्येष्ठा, आर्द्रा, मूला और शतभिषा।

Read more...
Religious

Vedic astrology: घर के प्रेत या पित्र रुष्ट हैं? पितृ रूष्‍ट होने के लक्षण (Pitra dosh)

Vedic astrology: जब परिवार के किसी सदस्‍य की स्वाभाविक मृत्यु न हो या परिवार का कोई सदस्‍य कुंवारा रहते हुए ही मृत्यु को प्राप्त हो जाता है। इस प्रकार के व्‍यक्‍ति अतृप्त आत्मा के रूप में विचरते है, और परिवार से अपने लिए हक की मांग करते हैं।

Read more...