Religious

ग्रह दोष से मुक्ति और आर्थिक उन्नति के लिए Holi के रंगों से करें ये खास उपाय

हिन्दू धर्म में Holi महापर्व का विशेष महत्व है। इस दिन देशभर में अबीर और गुलाल से होली खेली जाती है और उत्सव मनाया जाता है। ज्योतिष शास्त्र में होली से जुड़े कुछ उपाय बताए गए हैं जिनका पालन करने से विशेष लाभ मिलता है।

प्रत्येक वर्ष फाल्गुन मास के शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा तिथि के दिन होली मनाई जाती है। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार यह त्योहार भगवान श्री कृष्ण को सर्वाधिक प्रिय था। इसलिए इस दिन देशभर में और खासकर श्री कृष्ण की जमस्थली ब्रज में रंगवाली होली खेली जाती है और इस पर्व को विशेष उत्साह के साथ मनाया जाता है।

धार्मिक मान्यताओं के अनुसार होली के दिन देवी-देवताओं की उपासना करने से और मंत्रों का जाप करने से साधक को विशेष लाभ मिलता है और कई प्रकार की समस्याएं दूर हो जाती हैं। ज्योतिष शास्त्र में होली के रंगों से जुड़े कुछ विशेष उपाय भी बताए गए हैं, जिनका पालन करने से व्यक्ति को बहुत लाभ मिलता है। साथ ही कुंडली में उत्पन्न हो चुके ग्रह दोष का प्रभाव कम हो जाता है। होली से जुड़े कुछ आसान उपाय, जिनका पालन करने से व्यक्ति पर पड़ता है शुभ प्रभाव।

ज्योतिष शास्त्र में बताया गया है कि मानसिक रोग से मुक्ति पाने के लिए व्यक्ति को होलिका दहन के दिन एक सूखा नारियल, काला तिल, लौंग और पीली सरसों को अपने सर के उपर फेरना चाहिए और इन चीजों को अग्नि में डाल देना चाहिए।

इसके साथ परिवार में यदि कोई व्यक्ति लंबे समय से किसी भी प्रकार के शारीरिक रोग से पीड़ित है तो उन्हें होलिका दहन में भस्म हुई लकड़ी की राख का तिलक लगा दें। ऐसा करने से व्यक्ति को लाभ मिलता है।

ग्रह दोष से मुक्ति के लिए शिवलिंग की पूजा के समय होलिका दहन के भस्म को उन्हें अर्पित करें। साथ ही इस भस्म को पानी में मिलकर स्नान कर लें। मान्यता है कि इस उपाय से व्यक्ति को विशेष लाभ मिलता है और कुंडली में उग्र ग्रह शांत हो जाते हैं।

ज्योतिष शास्त्र में बताया गया है कि Holi पर्व के दिन व्यक्ति को घर के मुख्य द्वार पर हल्का गुलाल डाल देना चाहिए और दो मुखी दीपक जलाना चाहिए। माना जाता है कि इस उपाय से आर्थिक समस्याएं दूर हो जाती हैं और आय में वृद्धि के मार्ग खुल जाता है। इस उपाय को करने से व्यापार में भी उन्नति होती है।

Holi के दिन माता लक्ष्मी को लाल गुलाल सहित पुष्प, फल इत्यादि अर्पित करने से व्यक्ति को विशेष लाभ मिलता है। इसलिए इस दिन माता लक्ष्मी विधिवत पूजा करें और यह उपाय अवश्य करें।

ज्योतिष शास्त्र में बताया गया है कि हरे रंग का संबंध सुख-समृद्धि के कारक ग्रह बुध से है। इसलिए इस दिन होली खेलते समय हरे रंग के गुलाल या अबीर का उपयोग करें। इसके साथ घर के बगीचे में लगे किसी भी हरे पौधे पर थोड़ा सा यह रंग भी लगा दें। ऐसा करने से व्यक्ति बहुत लाभ मिलता है।

Religious Desk

धर्म के गूढ़ रहस्यों और ज्ञान को जनमानस तक सरल भाषा में पहुंचा रहे श्री रवींद्र जायसवाल (द्वारिकाधीश डिवाइनमार्ट,वृंदावन) इस सेक्शन के वरिष्ठ सामग्री संपादक और वास्तु विशेषज्ञ हैं। वह धार्मिक और ज्योतिष संबंधी विषयों पर लिखते हैं।

Religious Desk has 259 posts and counting. See all posts by Religious Desk

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

5 + one =