बुध के उपाय-संपूर्ण समाधान

बुध ग्रह के तांत्रिक मंत्र “ॐ बुं बुधाय नमः” या फिर बुध के बीज मंत्र “ॐ ब्रां ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः” में से किसी का भी जाप कर सकते हैं। सबसे उत्तम है,गुरु मंत्र के साथ हि क्रिया योग करके फिर अपने गले के सारे भाग का ध्यान करें और अपने सीधे हथेली में की उंगली की जड़ के भाग में उभरे बुध पर्वत क्षेत्र को अपने अंगूठे से दबाया या सहलाया करें।तो बुद्ध ग्रह के शुभ गुणों का लाभ मिलेगा।

आप पन्ना रत्न भी पहन सकते हैं या उसके स्थान पर ओनेक्स रत्न भी धारण कर सकते हैं।ध्यान रहे इनके साथ मोती नहीं पहनने,अन्यथा हानि होगी। यदि आपने कोई रत्न या रुद्राक्ष नहीं पहना है, तो आप पंच मुखी रुद्राक्ष को पन्चामृत में स्नान कराकर बुधवार को गले मे भी धारण कर सकते हैं।प्रत्येक बुधवार गाय को पालक अथवा साबुत मूंग खिलाएं, इससे बुध देव की कृपा शीघ्र प्राप्त होती है।

विशेष उपाय-
बुध के शुभ गुणों इर लाभ पाने के लिये रोज जब समय मिले दो या पांच अखरोट खाया करें व बुद्धवार को किसी को खाने को दे,तो आपका स्वास्थ्य और व्यापार और प्रेम व गृहस्थी,सन्तान सुख में व्रद्धि होगी।

बुधवार को पूर्णिमा देवी मंदिर में जाकर किसी भी फूल वाले पौधे के ताजे हरे पत्तों की बनी माला को चढ़ाए ओर खिचड़ी का भोग लगाए और बांटे, बहुत लाभ होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

two × 4 =