उत्तर प्रदेश

Ayodhya: प्राण प्रतिष्ठा समारोह के एक महीने बाद भी रामलला के दर्शन करने वाले रामभक्तों का उमड़ रहा सैलाब

Ayodhya का नाम भारतीय सभ्यता के महान इतिहास और परंपराओं से जुड़ा हुआ है। यहां की धरोहर में रामायण का एक महत्वपूर्ण स्थान है, जिसे विश्व के लाखों लोग अपने जीवन में एक बार देखने की इच्छा रखते हैं। अयोध्या में स्थित भव्य राम मंदिर में अब भी लाखों श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ रही है, जिनका उत्साह और आस्था निरंतर बना रहता है।

प्राण प्रतिष्ठा समारोह के एक महीने बाद भी, रामभक्तों की आस्था का ज्वार अब भी चरम पर है। अयोध्या के राम मंदिर से कई किलोमीटर दूर तक लोगों को लेकर जाने वाली बसें और ट्रांसपोर्ट व्यवस्था अब भी अत्यधिक प्रचंड है। यह सब दिखाता है कि नए मंदिर में प्राण प्रतिष्ठा समारोह के एक महीने बाद भी लोगों का उत्साह और भक्ति अटूट है।

अयोध्या में जब भक्त अपने भगवान के मंदिर की ओर बढ़ते हैं, तो उनके चेहरों पर आनंद और आस्था का अलग ही स्वरूप दिखाई देता है। कुछ भक्त ‘जय श्री राम’ के नारे लगाते हैं, जबकि कुछ दूसरे रामचरित मानस के दोहे गाते हैं। यहां की विविधता और सामूहिक भक्ति का दृश्य सर्वांगीण एकता का अद्भुत उदाहरण प्रस्तुत करता है।

अयोध्या के राम मंदिर में आस्था की हलचल का एहसास दूर से ही होता है, जब दूर-दूर से श्रद्धालुओं को लाने वाली बसें सड़कों पर कतार में खड़ी रहती हैं। प्राण प्रतिष्ठा समारोह के बाद भी, लाखों भक्तों ने मंदिर में दर्शन किए हैं और इसकी धरोहर को महसूस किया है।

इस अद्भुत स्थल का दर्शन करने आए भक्तों के लिए अलग-अलग प्रांतों से आए श्रद्धालुओं की अनूठी पहचान होती है। उनके परिधान से पता चलता है कि वे किस राज्य या क्षेत्र से आए हैं और उनकी विशेषता क्या है।

इसी बीच, राजस्थान के एक श्रद्धालु ने कहा, ‘मेरा सपना पूरा हो गया है। मैंने कभी सोचा नहीं था कि मैं अपने जीवन में भगवान राम के मंदिर में दर्शन कर पाऊंगा, लेकिन आज मेरी इच्छा पूरी हो गई है।’ इस प्रकार, अयोध्या का प्राचीन और धार्मिक महत्व हर किसी के लिए अद्वितीय है, जिसे वह सबसे खास मानते हैं।

News Desk

निष्पक्ष NEWS.जो मुख्यतः मेन स्ट्रीम MEDIA का हिस्सा नहीं बन पाती हैं।

News Desk has 15055 posts and counting. See all posts by News Desk

Avatar Of News Desk

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

1 × one =