एक और कोरोना टीके ‘कोवोवैक्स’ के लिए सीरम ने मांगी अनुमति

एक और टीके के लिए पुणे स्थित सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया ने भारत सरकार से परीक्षण करने की अनुमति मांगी है।

शनिवार को सीरम के सीईओ अदार पूनावाला ने बताया कि नोवावैक्स कंपनी के साथ कोवोवैक्स टीका के लिए करार किया गया है। अब तक इस पर हुए परीक्षण के परिणाम संतोषजनक मिले हैं। इसलिए भारत में इसके परीक्षण की अनुमति केंद्र सरकार से मांगी है। 

इसके लिए कंपनी की ओर से एक आवेदन भी दिया गया है। वहीं ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि सीरम से प्राप्त आवेदन पर पिछले सप्ताह ही विशेषज्ञ समिति (एसईसी) ने बैठक में विचार किया था

लेकिन उस दौरान परीक्षण से जुड़े परिणाम मौजूद नहीं थे। इसलिए सीरम से ब्रिटेन में हुए परीक्षण की पूरी जानकारी मांगी है। इस जानकारी पर समीक्षा के बाद ही आगे का फैसला लिया जा सकता है।

ब्रिटेन में कोवोवैक्स टीका पर मानव परीक्षण हुए हैं जिनमें इसका असर 89.3 फीसदी तक मिला है। सीरम के सीईओ अदार पूनावाला का कहना है कि अगर जल्द ही उन्हें इस पर भारत में परीक्षण की अनुमति मिल जाती है तो

आगामी जून तक देश के पास एक और टीका उपलब्ध हो सकेगा। नोवावैक्स कंपनी के साथ 20 करोड़ खुराक के लिए सीरम ने करार किया है।

इससे पहले सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया ने एस्ट्रोजेनेका कंपनी के साथ भी करार किया था जिस पर भारत में परीक्षण के बाद कोविशील्ड टीका को तैयार किया था।

हाल ही में सरकार ने 1.1 करोड़ कोविशील्ड टीका की डोज लेने के बाद 16 जनवरी को स्वदेशी टीका कोवैक्सिन के साथ टीकाकरण अभियान शुरू किया था।

यह भी पढ़ें-  टीकाकरण के बीच स्त्री रोग विशेषज्ञों ने सलाह दी है कि टीका लगवाने के बाद महिलाएं कम से कम दो माह तक बच्चे की प्लानिंग न करें। डब्ल्यूएचओ कह चुका है कि कुछ टीके गर्भवतियों के लिए सुरक्षित नहीं हो सकते हैं।

News Desk

निष्पक्ष NEWS,जो मुख्यतः मेन स्ट्रीम MEDIA का हिस्सा नहीं बन पाती हैं।

News Desk has 6044 posts and counting. See all posts by News Desk

Avatar Of News Desk

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

fifteen + 14 =