वैश्विक

Telugu Desam Party अध्यक्ष चंद्रबाबू नायडू को एसीबी कोर्ट ने 23 सितंबर तक भेजा न्यायिक हिरासत में

Telugu Desam Party (टीडीपी) के अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू को कथित कौशल विकास घोटाले के सिलसिले में विजयवाड़ा एसीबी कोर्ट ने 23 सितंबर तक न्यायिक हिरासत में भेज दिया है.करोड़ों रुपये के भ्रष्टाचार मामले में गिरफ्तार टीडीपी प्रमुख एन चंद्रबाबू नायडू की रिमांड पर अदालत का फैसला आने से पहले आंध्र प्रदेश पुलिस ने किसी भी प्रतिकूल स्थिति से निपटने के लिए सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए थे. विजयवाड़ा शहर में पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया था.

शनिवार तड़के गिरफ्तार किए गए नायडू को रविवार सुबह करीब छह बजे विजयवाड़ा में एसीबी अदालत में पेश किया गया. कई घंटे तक चली दलीलों के पश्चात, न्यायाधीश ने करीब 12 घंटे बीत जाने के बाद फैसला सुनाया.

Telugu Desam Party के प्रमुख और आंध्रप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू की करोड़ों रुपये के कथित घोटाला मामले में गिरफ्तारी के बीच कई लोगों ने उनके पक्ष में आवाज उठायी है तथा उनकी गिरफ्तारी को अवैध बताया है. उनके पक्ष में आवाज उठाने वालों में कुछ विदेशी भी हैं. वैश्विक प्रौद्योगिकी कंपनी जोहो के प्रमुख कार्यकारी श्रीधर वेंबू ने रविवार को नायडू की गिरफ्तारी पर आश्चर्य प्रकट किया. वेंबू ने ‘एक्स’पर पोस्ट किया, मैं यह खबर पढ़कर स्तब्ध रह गया कि नायडू जी को कल गिरफ्तार कर लिया गया. मैं उन्हें जानता हूं तथा उन्होंने जोहो समेत कई कंपनियों को आंध्रप्रदेश में लाने के लिए कठिन परिश्रम किया. मैं आशा करता हूं कि इंसाफ होगा.

प्रकाशम जिले के कानगिरि में नायडू की गिरफ्तारी के विरोध में आज एक दिन के उपवास पर बैठने आये टीडीपी समर्थकों को पुलिस ने वहां से भगा दिया. पार्टी की ओर से बताया गया कि तिरूपति के श्रीकलाहस्ती और पूर्व गोदावरी जिले के कोव्वुरू में पुलिस ने इस तरह के प्रदर्शनों को नाकाम कर दिया.

Telugu Desam Party ने लंदन में ब्रिटिश संसद के सामने महात्मा गांधी की प्रतिमा के पास अपने विदेशी समर्थकों द्वारा विरोध प्रदर्शन किये जाने के कुछ वीडियो साझा किये. इस बीच, वाईएसआरसीपी के नेता और राज्यसभा सदस्य वी विजयसाई रेड्डी ने सवाल किया कि नायडू को कथित घोटालों में उनकी भूमिका को लेकर गिरफ्तार क्यों नहीं किया जाना चाहिए. उन्होंने आरोप लगाया कि तेदेपा प्रमुख कई अनियमितताओं के लिए जिम्मेदार हैं जिनमें एपी-सीआरडीए घोटाला, एपी-फाइबरनेट घोटाला, एपी स्किल डेवलपमेंट घोटाला, अमरावती जमीन घोटाला, ईएसआई चिकित्सा खरीद घोटाला और 2016 में वोट के बदले नकद घोटाला आदि शामिल हैं.

कथित कौशल विकास निगम घोटाला मामले में गिरफ्तार Telugu Desam Party (तेदेपा) के प्रमुख एन चंद्रबाबू नायडू को अपराध जांच विभाग (सीआईडी) ने आरोपी 37 (ए 37) के रूप में नामजद किया है. आंध्र प्रदेश पुलिस ने कथित कौशल विकास निगम घोटाले में नायडू को ‘मुख्य षड्यंत्रकारी’ बताया था. ऐसा आरोप है कि इस कथित घोटाले से राज्य सरकार को 300 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ.

News-Desk

निष्पक्ष NEWS.जो मुख्यतः मेन स्ट्रीम MEDIA का हिस्सा नहीं बन पाती हैं। हमारा लक्ष्य न्यूज़ को निष्पक्षता और सटीकता से प्रस्तुत करना है, ताकि पाठकों को विश्वासनीय और सटीक समाचार मिल सके। किसी भी मुद्दे के मामले में कृपया हमें लिखें - [email protected]

News-Desk has 15514 posts and counting. See all posts by News-Desk

Avatar Of News-Desk

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

one × 3 =