Ayodhya News: राम जन्मभूमि मंदिर निर्माण समिति की दो दिवसीय बैठक, तेजी से चल रहा काम

Ayodhya News: मंदिर निर्माण की तैयारी को लेकर निर्माण समिति के चेयरमैन नृपेंद्र मिश्र भी अयोध्या पहुंच रहे हैं। लगाया जा रहा है कि इस दौरान संघ प्रमुख भी मंदिर निर्माण के कार्यों का जायजा लेने के लिए परिसर में बैठक के दौरान उपस्थित हो सकते हैं।जिसको लेकर राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट  व परिसर के सुरक्षा अधिकारियों ने तैयारी शुरू कर दी है।

राम जन्मभूमि परिसर में मंदिर निर्माण को लेकर तैयार किए गए फाउंडेशन पर राफ्ट निर्माण किया जा रहा है। जिसका कार्य नवंबर में ही इस कार्य को पूरा कर लिया जाएगा। जिसके बाद मंदिर का प्लिंथ तैयार किया जाएगा। जिसके लिए मिर्जापुर के बलुवा पत्थर व जशवंतपुर बैंग्लोर से ग्रेनाइट के पत्थरों की आपूर्ति की जा रही है।

वही मंदिर निर्माण को लेकर चल रही तैयारी में निर्माण समिति की दो दिवसीय बैठक 18 व 19 अक्टूबर को आयोजित किया गया। जिसमे समिति के चेयरमैन नृपेंद्र मिश्र व राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महामंत्री चम्पत राय, ट्रस्टी डॉ अनिल मिश्र,विमलेंद्र मोहन मिश्र, एलएंडटी व टाटा कंसल्टेंसी के इंजीनयर व आर्किटेक आशीष सोनपुरा भी शामिल होंगे। तो वही मिली जानकारी के मुताबिक इस बार बैठक में संघ प्रमुख मोहन भागवत के भी शामिल होने की उम्मीद जताई जा रही है। इसके तहत राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने तैयारी शुरू कर दी है।

मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्रीरामलला का गर्भगृह का निर्माण का काम तेजी से चल रहा है. राम मंदिर निर्माण को लेकर चल रहे राफ्ट की ढलाई का काम एक अक्टूबर से शुरू हुआ ये काम तेजी से किया जा रहा है।

 15 नवंबर तक नींव के ऊपर राफ्ट के निर्माण का कार्य हो जाएगा. 15 नवंबर के बाद विंध्यवासिनी धाम मिर्जापुर के लाल बलुई पत्थरों से राम मंदिर का फर्श प्लिंथ का निर्माण कार्य शुरू होगा। मार्च 2022 में राम मंदिर का फर्श प्लिंथ का निर्माण कार्य पूरा हो जाएगा, उसके ऊपर राजस्थान के बंसी पहाड़पुर के पिंक सेंड स्टोन पत्थरों से राम मंदिर निर्माण शुरू हो जाएगा।

Ayodhya News: राम मंदिर के नींव निर्माण के लिए इंजीनियरिंग फील्ड मटेरियल से 44 लेयर भरे जाने का कार्य पूरा

राम मंदिर निर्माण का काम रात्रि में कम तापमान के बीच किया जा रहा है। इसमें डेढ़ मीटर मोटी राफ्ट का निर्माण कार्य किया जा रहा है। 17 ब्लॉकों को भरने का कार्य किया जा रहा है। राम मंदिर की प्लिंथ एक मजबूत चट्टान पर बनाई जाएगी उसी चट्टान के निर्माण का कार्य किया जा रहा है। अभी तक 50 फीट गहरी 400 गुणे 300 लंबी चौड़ी नींव को इंजीनियरिंग फील्ड मटेरियल से भरने का कार्य किया गया था।

पहले चरण का काम पूरा किया गया है. अब दूसरे चरण में राफ्ट के निर्माण का कार्य किया जा रहा है. उम्मीद जताई जा रही है कि जल्दी ही राम मंदिर का निर्माण कर लिया जाएगा और भगवान राम अपने मूल स्थान गर्भ गृह में विराजमान होकर अपने भक्तों को दर्शन देंगे. 

P.K. Tyagi

Tyagi is a Senior Journalist and advocate. He writes on public-government aspects, social issue, political scenario and opinion polls. He is member of different organizations working for the public welfare at regional & national level. Contact E.mail- info@poojanews.com

P.K. Tyagi has 47 posts and counting. See all posts by P.K. Tyagi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

19 + five =