याद करो इनको वरना अंजाम वही हो जायेगा…

‘अच्छा हुआ भगत सिंह तेरा फोटो नआया नोटों पर,

वरना रौंदे जाते तुम मुन्नी बाई के कोठों पर !

हँसते हँसते चूमा फंदा हंस कर फांसी पर झूल गए,

और वो इतने कम्ब्ख्त कि तेरी क़ुरबानी को भूलगए

धिक्कार है ऐसे बार बार और सौ सौ बार जवानी को ,
शीला की जवानी याद रही भूले झाँसी की रानी को !

आजाद,भगत,अशफाक और विस्मिल जैसेबलिदानी पर,
मैं वारी जाऊ बार बार और सौ सौ बारजवानी पर !

याद करो इनको वरना अंजाम वही हो जायेगा,

दूर नही बह दिन जब भारत फिर से गुलामहो जायेगा !
गर बचना है गुलामी से तो याद करो इनवीरों को,

बीर शिवाजी की भांति तर्कस से निकालो तीरों को !

•••••जय मां भारती

 

Tiwari Abhi News |

Omp News 1 |

रचनाकार:

मूलतः शांत स्वभाव के दिखने वाले श्री ओम प्रकाश गुप्ता (सम्पर्क: 9907192095)  एक प्रखर राष्ट्रवादी ,विद्रोही रचनाकार लेखक एवं समाज सेवक है जो समसामयिक विषयों पर अपनी तल्ख रचनाओं एवं टिप्पणियों के लिए जाने जाते हैं| 

डॉ0 ओम प्रकाश गुप्ता

मूलतः शांत स्वभाव के दिखने वाले डॉ0 ओम प्रकाश गुप्ता (सम्पर्क: 9907192095)  एक प्रखर राष्ट्रवादी ,विद्रोही रचनाकार लेखक एवं समाज सेवक है जो समसामयिक विषयों पर अपनी तल्ख रचनाओं एवं टिप्पणियों के लिए जाने जाते हैं| 

    डॉ0 ओम प्रकाश गुप्ता has 12 posts and counting. See all posts by डॉ0 ओम प्रकाश गुप्ता

    Leave a Reply

    Your email address will not be published.

    2 × 5 =